IQ Option ट्रेंड्स पर आधारित कार्यनीति

प्रथम चरण

ट्रेडिंग खाता खोलें। इस गाइड को समझने के उद्देश्य से मैं सुझाव दूँगा कि आप एक IQ Option डेमो खाता खोल लें।

यह बिलकुल मुफ्त है और शुरू करने में आसान है। आपके डेमो खाते में $10000 की राशि होगी।

 

iq option कार्यनीति

द्वितीय चरण

अपने डेमो खाते में लॉग इन करें। आप जिस आस्ति में ट्रेड करना चाहते हैं उसका चुनाव करें। ये आमतौर पर आस्ति जोड़े होंगे जैसे अमेरिकन डॉलर/ यूरो। आप अपनी पसंद के अनुसार कोई भी एक चुन सकते हैं। हमारा लक्ष्य ट्रेंड को पहचानना है।

 iq option खाता खोलें

अपने स्क्रीन पर दिखाई दे रहे चार्ट को देखें। आप एक हरा बिन्दु देखेंगे जो कि कि यह उतार चढ़ाव बनाता हुआ  ऊपर नीचे जा रहा होगा। यह रेखा ट्रेंड दर्शाती है।

ट्रेड गिरताहुया, उठता हुआ या स्थिर हो सकता है। स्थिर ट्रेड में बहित ज़्यादा मूल्य बदलाव नहीं देखे जाते हैं और ऐसे समय में किसी स्थिति में प्रवेश करने से बचना चाहिए। बाइनरी कार्यनीति जो कारगर है

आप अपनी चुनी हुई आस्ति का ट्रेंड एक विशेष समय अंतराल के आधार पर निर्धारित कर सकते हैं। यह 2 मिनट से 30 दिनों तक का हो सकता है।  आप इन्हें चार्ट के सबसे नीचे के भाग में देख सकते हैं।

तृतीय चरण

आपके सामने प्रस्तुत विभिन्न समय अंतरालों, जो 30 दिन से शुरू हो रहे हैं , पर क्लिक करें। इन सभी समय अंतरालों के ट्रेंड को देखें।

 

 बाइनरी ऑप्शंस कार्यनीति का परीक्षण

आप देखेंगे कि जितना लंबा समय अंतराल होगा, उतना ही जटिल ट्रेड होगा। उदाहरण के लिए, आप शायद नोटिस करें कि ट्रेड से विपरीत बदलाव कहीं – कहीं ही होते हैं। आप यह भी नोटिस कर सकते हैं कि जितना छोटा समय अंतराल होगा जैसे कि एक दिन या 60 मिनट वह उतना ही अधिक विश्वसनीय आंकड़े देगा। उदाहरण के लिए, औसतन 7 मिनटों के बाद ट्रेंड के विपरीत बदलाव होता है।

मैं यह कहना चाह रहा हूँ कि जब आप ट्रेंड्स को देखें आपका लक्ष्य एक जैसे बार बार होने वाले पैटर्न को पहचानना होना चाहिए। यह आपको ट्रेड में प्रवेश करने और बाहर आने के सर्वोत्तम समय को निर्धारित करने में मदद करेगा।बाइनरी कार्यनीति 2018

चतुर्थ चरण

अपने पहचाने हुए ट्रेंड के अनुसार ट्रेड लगाएँ। अगर आप सोचते हैं कि आपकी चुनी हुई आस्ति का मूल्य एक निश्चित अंतराल के बाद बढ़ेगा (जैसा कि आपने अपने ट्रेड्स विश्लेषण से जाना होगा), अपनी निवेश राशि, समाप्ति अवधि डालें और UP (ऊपर) के बटन पर क्लिक करें। अगर आपको लगता है कि ट्रेंड में गिरावट होगी तो DOWN (नीचे) के बटन पर क्लिक करें’। IQ Option आपकी अपेक्षित रिटर्न राशि दर्शाएगा।

 

 बाइनरी ऑप्शंस कार्यनीति जो कारगर है

पंचम चरण

यह वास्तव में एक चरण नहीं हैं बल्कि आपके ट्रेडिंग खाते के प्रबंधन के संबंध में एक अतिरिक्त सलाह है। ट्रेंड्स पर आधारित ट्रेडिंग कार्यनीति देखने में बहुत आसान लग सकती है और यह तब है जब आप चार्ट पढ़ने की आधारभूत बातेंसमझ जाते हैं। लेकिन, आपको याद रखना चाहिए कि मूल्य में बदलाव कई बुनियादी कारकों के कारण होता है। एक ट्रेड अचानक से पलट सकता है जिससे आप निवेश राशि खो सकते हैं।

इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि आप विवेकपूर्ण खाता प्रबंधन का भ्यास करें। मेरी बात करें तो  मैं अपने खाते के बैलेंस का 8.5% या उससे कम ही निवेश करता हूँ। उदाहरण के लिए, अगर मेरे खाते का बैलेंस $1000 है, अधिकतम $85 की राशि एक ट्रेड में निवेश करूंगा। इस तरीके से अगर मुझे घाटा भी होता है तो मेरे पास फिर भी भविष्य में ट्रेड लगाने के लिए पर्याप्त धन होगा और घाटे को रिकवर कर सकूँगा।

 

 नए लोगों के लिए बाइनरी ऑप्शंस कार्यनीति

वैधानिक चेतावनी : फ्यूचर्स, स्टॉक्स और ऑपशन्स में ट्रेडिंग करने में घाटे का काफी जोखिम होता है और वे हर निवेशक के लिए उपायुक्त नहीं है। फ्यूचर्स, स्टॉक्स और ऑपशन्स के मूल्यांकन में उतार-चढ़ाव हो सकते हैं, और परिणामस्वरूप ग्राहक अपने वास्तविक निवेश से ज़्यादा का नुकसान भी उठा सकता है। सामयिक और भू राजनैतिक घटनाओं का बाज़ार मूल्य पर प्रभाव पड़ता है। फ्यूचर्स ट्रेडिंग के अत्यधिक लाभदायी होने का मतलब है कि छोटे बाज़ार बदलावों का आपके ट्रेडिंग खाते पर काफी असर पड़ेगा और यह आपके विरुद्ध भी जा सकता है, जिससे आपको घाटा हो सकता है या हो सकता है आपके लिए कारगर हो और आपको बड़ा फायदा हो जाए।

अगर बाज़ार में बदलाव आपके प्रतिकूल होता है तो आपको आपके खाते में जमा कुल धनराशि से ज़्यादा का भी नुकसान हो सकता है। आप सभी प्रकार के जोखिम और आपके द्वारा प्रयोग किए गए वित्तीय स्रोतो के लिए उत्तरदाई होंगे साथ आपके द्वारा चुनी गई ट्रेडिंग प्रणाली के लिए भी। आपको तब तक ट्रेडिंग में प्रवेश नहीं करना चाहिए जब तक कि आप आपने लेन-देन को और संभावित घाटे की व्यापकता को पूरी तरह समझ न लें। अगर आप इन जोखिमों को अच्छी तरह नहीं समझते हैं तो आपको अपने वित्तीय सलहकार से स्वतंत्र रूप से सलाह लेनी चाहिए।

सभी ट्रेडिंग कार्यनीतियाँ आपके अपने जोखिम पर प्रयोग में लाएँ।